KHABRI LAL : प्रोफेसर की गिरफ्त में डी-46 गैंग का एक और खूंखार बदमाश,इसकी हकीकत जानकर रह जाएंगे दंग

0
1467
Advertisement Girl in a jacket

 

 

रिपोर्ट : ज्ञानेंद्र चतुर्वेदी

आजमगढ़ : जिले की पुलिस को गुरूवार को बड़ी कामयाबी मिली। पुलिस व आम आदमी के लिए सिरदर्द बन चुके डी-46 गिरोह के सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जबकि गैंग का सरगना पहले ही पुलिस मुठभेड़ में मारा जा चुका है। बाकी के तीन सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कई टीमे लगायी गयी है। गिरफ्तार बदमाश ने अपने साथियों के साथ मिलकर 15 अक्टूबर को ग्राहक सेवा केंद्र संचालक राजेश यादव की हत्या कर 1.36 लाख रूपये लूटे थे। इस गैंग का सरगना लक्ष्मण यादव पहले ही पुलिस मुठभेड़ में मारा जा चुका है। पुलिस ने गिरफ्तार बदमाश के पास से लूट का 20,000 रूपये, स्कूटी, मोबाइल वएक पिस्टल, कारतूस बरामद किया है।

बता दें कि कप्तानगंज थाना क्षेत्र के भवानीपट्टी गांव निवासी रमेश यादव मोलनापुर बाजार में ग्राहक सेवा केन्द्र चलाता था। 15 अक्टूबर को अपराह्न करीब 3 बजे ग्राहक सेवा केन्द्र से 1.36 लाख रूपया लेकर जा रहा था कि पासीपुर नहर रोड़ पर बदमाशों ने रूपया लूट लिया और राजेश की गोली मारकर हत्या कर दी। इस मामले में मृतक के भाई दिनेश कुमार यादव पुत्र झिनकु यादव ने हत्या व लूट का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस मामले की जांच में जुटी थी। विवेचना के दौरान पुलिस के संज्ञान में आया कि हत्या डी-46 गैंग ने की है। इसी दौरान गुरूवार को थाना प्रभारी कप्तानगंज दया शंकर सिंह को मुखबीर की सूचना मिली कि हत्या में शामिल डी-46 के में प्रवीण पाण्डेय उर्फ मन्नू पुत्र इन्द्रजीत निवासी खलीफतपुर थाना कप्तानगंज अपने साथी अरविन्द उर्फ बल्लू उर्फ दिल्ली उर्फ काशी राजभर पुत्र गुलाब राजभर व प्रशान्त सिंह उर्फ प्रिन्स, कल्लु सिंह उर्फ फोजी के साथ किसी घटना को अंजाम देने के लिए पासीपुर बड़ी नहर अराव गुलजार गांव के पास पुलिया पर बैठे है। इसके बाद पुलिस ने पुल के पास घेराबंदी की लेकिन बदमाशों ने पुलिस को देख लिया और भागने की कोशिश की। इसी दौरान एक बदमाश ने पुलिस पर फायर कर दिया। पुलिस ने एक बदमाश को पकड़ लिया जबकि तीन बदमाश भागने में सफल रहे। पकड़े गए बदमाश ने अपना नाम प्रवीण पांडेय उर्फ मुन्नू बताया। जबकि फरार बदमाश अरविन्द उर्फ बल्लू उर्फ दिल्ली उर्फ काशी राजभर पुत्र गुलाब राजभर निवासी काकोरी (त्रिलोचन महादेव) जलालपुर जनपद जौनपुर, प्रशान्त सिंह उर्फ प्रिन्स पुत्र प्रेम नरायन निवासी ईश्वरी नेवादा थाना सराय ख्वाजा जौनपुर व कल्लू उर्फ फौजी पुत्र पारस नाथ सिंह निवासी देवकली थाना मेंहनगर बताये गए है। बदमाश के पास से पुलिस ने एक अदद देशी 32 बोर पिस्टल बरामद व एक अदद जिन्दा कारतूस, एक खोखा कारतूस, एक अदद मोबाइल समसंग, 20 हजार रूपये बरामद हुए। उक्त बदमाश ने स्वीकार किया कि राजेश की हत्या उसने ही साथियों के साथ मिलकर की थी। इसके अलावा नौ अक्टूबर को भवानी पट्टी में एक व्यक्ति से तीन लाख रूपया लूटे थे। गैंग का सरगना लक्ष्मण यादव पुत्र रामदरस यादव निवासी उल्टहवा जदीद थाना महराजगंज जनपद आजमगढ़ का निवासी था। महराजगंज थाना क्षेत्र में पुलिस मुठभेड़ में मारा गया था। पासीपुर नहर रोड के पास जो लूट की घटना हम चारों लोग किए थे उसमें हमें 34000 हिस्सा मिला था उसी हिस्से का यह 20000 रूपया उसके पास मौजूद है। पुलिस अधीक्षक प्रो. त्रिवेणी सिंह ने बताया कि गिरफ्तार बदमाश के खिलाफ विभिन्न थानों में 26 गंभीर अपराध दर्ज है। इसके बाकी साथियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें लगायी गयी है।